भारतीय संविधान भाग-1 : संघ और राज्य क्षेत्र (अनुच्छेद-1 से अनुच्छेद-4 तक)

Polity By Khan Sir

भाग-1 : संघ और राज्य क्षेत्र (1-4) अनुच्छेद 1 मे क्या है? भारत राज्यों का संघ (Union) है अर्थात् इसके राज्य कभी-भी टुटकर अलगन नहीं हो सकते । Note – जो देश federation होते हैं। उसके राज्य टुट सकते हैं। जैसे-सोवियत संघ U.S.A. अनुच्छेद 2 मे क्या है? संसद राष्ट्रपति को पूर्व सुचना देकर किसी … Read more

भारतीय संविधान भाग-2 : नागरिकता (अनुच्छेद-5 से अनुच्छेद-11 तक)

Polity By Khan Sir

भारतीय संविधान भाग-2 : नागरिकता कोई भी देश अपने मुल निवासियों को कुछ विशेष अधिकार देता है इन अधिकारों को ही नागरिकता कहा जाता है। भारत में एकहरी नागरिकता है। अर्थात् हम केवल देश के नागरिक है। राज्यों को नागरिक नहीं बल्की निवासी है। भारत में नागरिकता ब्रिटेन से लिया गया है। भारत कि नागरिक … Read more

भारतीय संविधान भाग-3 : मुल अधिकार (अनुच्छेद-12 से अनुच्छेद-35 तक)

Polity By Khan Sir

भारतीय संविधान भाग-3 : मुल अधिकार मुल अधिकार को नैसर्गिक अधिकार कहते हैं। क्योंकि ये जन्म के बाद मिल जाता है। मुल अधिकार को जैग्नाकारा कहते हैं। इसे U.S.A के संविधान से लिया गया है । अनुच्छेद 12 मुल अधिकार की परिभाषा अनुच्छेद 13 यदि हमारे मुल अधिकार को किसी दुसरे मुल अधिकार प्रभावित करे, … Read more

भारतीय संविधान भाग-4 : नीति निर्देशक तत्त्व (अनुच्छेद-36 से अनुच्छेद-51 तक)

Polity By Khan Sir

भारतीय संविधान भाग-4 : नीति निर्देशक तत्त्व इसे भाग-4 में अनुच्छेद 36-51 के बीच रखा गया है। इसे आयरलैण्ड के संविधान से लाया गया है। तथा आयरलैण्ड ने स्पेन के संविधान से लाया या ये ऐसे तत्त्व हैं जो देश के लिए आवश्यक है। किन्तु संविधान बनते समय सरकार के पास इतने धन तथा संसाधन … Read more

error: Content is protected !!